मलाड की 33 वर्षीय महिला से 'यूके का डॉक्टर' बता शख्स ने की दोस्ती... ठगे 2.5 लाख रुपये

A man befriended a 33-year-old Malad woman by posing as a 'UK doctor' and duped her of Rs 2.5 lakh.

मलाड की 33 वर्षीय महिला से 'यूके का डॉक्टर' बता शख्स ने की दोस्ती...  ठगे 2.5 लाख रुपये

मलाड की एक 33 वर्षीय महिला को ‘यूके का एक डॉक्टर’ बताकर एक शख्स ने दोस्ती की और फिर उससे 2.46 लाख रुपये की ठगी कर ली. महिला इस शख्स से एक डेटिंग ऐप पर मिली थी और ब्रिटेन के इस तथाकथित डॉक्टर ने उससे निजी रूप से मिलने की उत्सुकता दिखाई थी.

मुंबई: मलाड की एक 33 वर्षीय महिला को ‘यूके का एक डॉक्टर’ बताकर एक शख्स ने दोस्ती की और फिर उससे 2.46 लाख रुपये की ठगी कर ली. महिला इस शख्स से एक डेटिंग ऐप पर मिली थी और ब्रिटेन के इस तथाकथित डॉक्टर ने उससे निजी रूप से मिलने की उत्सुकता दिखाई थी.

मलाड पुलिस ने इस मामले में एक एफआईआर दर्ज कर ली है और जालसाज की तलाश कर रही है. ठगी का शिकार हुई महिला इंटीरियर डेकोरेटर है और एक निजी कंपनी में काम करती है. इस साल की शुरुआत में उसने एक डेटिंग ऐप डाउनलोड किया था. जहां उसकी मुलाकात जीत मल्करजीत नाम के शख्स से हुई थी. दोनों नियमित रूप से चैट करने लगे और जल्द ही दोस्त बन गए.

खबर के मुताबिक मल्करजीत ने कहा कि वह यूके का एक डॉक्टर है और उसने उसके साथ अपना इंटरनेशनल फोन नंबर शेयर किया. करीब एक महीने तक दोनों की फोन पर बात होती रही और महिला उस पर भरोसा करने लगी. 13 नवंबर को मल्करजीत ने घोषणा की कि वह उनसे मिलने के लिए भारत आएगा. मना करने के बावजूद उसने महिला के लिए ब्रिटेन से उपहार और जूते लाने का वादा किया.

20 नवंबर की शाम 6 बजे के करीब महिला को मल्करजीत का व्हाट्सएप संदेश मिला कि वह यूके से दिल्ली के लिए रवाना हो गया है. फिर अगली सुबह महिला को एक अज्ञात भारतीय नंबर से कॉल आया. फोन करने वाले ने कहा कि वह दिल्ली हवाईअड्डे की अधिकारी है और उसने फोन मल्करजीत को दिया. जिसने दावा किया कि उसे हवाईअड्डे से बाहर नहीं जाने दिया जा रहा है.

उसने कहा कि हवाई अड्डे के कर्मचारियों ने उसका फोन और उसका सारा सामान ले लिया क्योंकि उनके पास अनुमति से अधिक विदेशी मुद्रा थी. उसने महिला से कहा कि उसे पैसों की सख्त जरूरत है. महिला ने 69,000 रुपये का भुगतान किया लेकिन आधे घंटे बाद उसी ‘हवाईअड्डा अधिकारी’ का एक और फोन आया. जिसमें 1.77 लाख रुपये पंजीकरण शुल्क की मांग की गई थी.

फोन पर मल्करजीत के रोने की आवाज सुनकर महिला ने रकम ट्रांसफर कर दी. उसी शाम महिला को बताया गया कि मल्करजीत को छोड़ा जा रहा है. लेकिन जब उसने उसका नबंर डायल किया तो नंबर बंद था. उसने उसे कई संदेश भेजे लेकिन कोई जवाब नहीं मिला. उसने दो दिन इंतजार किया. जब उसके रिश्तेदारों ने उसे भरोसा दिलाया कि उसे ठगा गया है, तो महिला ने मलाड पुलिस स्टेशन का दरवाजा खटखटाया और 23 नवंबर को शिकायत दर्ज कराई.

Citizen Reporter

Report Your News

Join Us on Social Media

Download Free Mobile App

Download Android App

Follow us on Google News

Google News

Rokthok Lekhani Epaper

Post Comment

Comment List

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media

Latest News

फुटपाथों पर अतिक्रमण को लेकर बीएमसी को बॉम्बे हाई कोर्ट की फटकार... फुटपाथों पर अतिक्रमण को लेकर बीएमसी को बॉम्बे हाई कोर्ट की फटकार...
फुटपाथों पर अतिक्रमण, अवैध विस्तार और पार्किंग बाधाओं की व्यापकता, विशेषकर रेलवे स्टेशनों के आसपास, उन्हें सक्षम व्यक्तियों और विकलांग...
महाराष्ट्र के पुणे में जाली नोट फैक्ट्री का भंडाफोड़... चीन से मंगवाया कागज, हूबहू छापे 500 के नोट
MVA के बीच सीट बंटवारा हो चुका है... घोषणा जल्द !
नवी मुंबई में विदेशी मुद्रा उपलब्ध कराने के बहाने 37 वर्षीय एक व्यक्ति से 60 हजार रुपये की ठगी !
दो से ज्यादा बच्चे वाले लोगों को नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी... राजस्थान के नियम पर SC की भी लगी मुहर
आज किसान करेंगे आगे की रणनीति का ऐलान... पटियाला और संगरूर में इंटरनेट बंद !
स्वर्गीय बालासाहेब ठाकरे के सपने को पूरा करने के लिए मंत्रालय पर झुग्गीवासियों का संकल्प मार्च

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media