to save life of Hindu
National 

मुस्लिम युवक ने हिंदू की जान बचाने के लिए रोजा तोड़ दिया और इंसानियत का फर्ज निभाया।

मुस्लिम युवक ने हिंदू की जान बचाने के लिए रोजा तोड़ दिया और इंसानियत का फर्ज निभाया। मुस्लिम के लिए रमजान का पाक महीना बेहद खास होता है। पूरा दिन बिना कुछ खाए-पिए मुस्लिम समुदाय के लोग रोजा रखते हैं। रोजे के दौरान मुस्लिम युवक ने भाईचारे की मिसाल पेश की है। असम में एक मुस्लिम युवक...
Read More...

Advertisement