महाराष्ट्र के बुलढाणा में चल रहा अवैध अबॉर्शन रैकेट... नदी में शिशुओं के भ्रूण मिलने से हंगामा

Illegal abortion racket going on in Maharashtra's Buldhana... Uproar after fetuses of babies were found in the river

महाराष्ट्र के बुलढाणा में चल रहा अवैध अबॉर्शन रैकेट... नदी में शिशुओं के भ्रूण मिलने से हंगामा

बुलढाणा में वाण नदी में ढेर सारे शिशुओं के मरे हुए भ्रूण पाए जाने से हंगामा मच गया है। मरे हुए शिशुओं को नदी में फेंक दिया गया था। बुलढाणा जिले के संग्रामपुर तालुका के कोलद गांव में इस घटना के खुलासे के बाद स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है। इस घटना की सूचना मिलते ही तामगांव पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो बड़े पैमाने पर अवैध रूप से अबॉर्शन कराने का रैकेट शुरू होने की बात सामने आई।

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र के बुलढाणा से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई। बुलढाणा में वाण नदी में ढेर सारे शिशुओं के मरे हुए भ्रूण पाए जाने से हंगामा मच गया है। मरे हुए शिशुओं को नदी में फेंक दिया गया था।

बुलढाणा जिले के संग्रामपुर तालुका के कोलद गांव में इस घटना के खुलासे के बाद स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है। इस घटना की सूचना मिलते ही तामगांव पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो बड़े पैमाने पर अवैध रूप से अबॉर्शन कराने का रैकेट शुरू होने की बात सामने आई।

जब यह घटना सामने आई तो बड़ी तादाद में गांव वाले नदी किनारे एकत्र हो गए। यहां स्थानीय लोगों द्वारा अक्सर यह शिकायत की जाती रही है कि यहां आदिवासी बाहुल्य इलाकों में बड़े पैमाने पर फर्जी डॉक्टर काम कर रहे हैं। अधिकतर ऐसे ही डॉक्टर चोरी से अवैध अबॉर्शन का रैकेट चला रहे हैं।

अबॉर्शन के बाद मृत शिशुओं के भ्रूण को नदी में बहा दिया जा रहा है। इस मामले की जांच तामगांव पुलिस ने शुरू कर दी है। पुलिस ने अपनी शुरूआती जांच में अवैध अबॉर्शन रैकेट एक्टिव होने की बात स्वीकार की है। वहीं, जिले के हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारी इस बारे में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं।

बता दें कि इस घटना की अब तक मिली जानकारी के मुताबिक बुलढाणा के संग्रामपुर तालुका के कोलद गांव में वान नदी में 22 नवंबर को कई सारे बालक शिशु के मृत भ्रूण मिले थे। ये भ्रूण चार से छह महीने के शिशुओं के बताए जा रहे हैं। इस घटना से पूरे गांव में हड़कंप मच गया हैं।

इसके बाद ग्रामीणों ने पास के तामगांव पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने धारा 318 के तहत मामला दर्ज कर लिया हैं। समूचा गांव ने पुलिस से आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने की मांग कर रहा हैं। तामगांव पुलिस हरकत में आई: तामगांव पुलिस भी इस मामले को गंभीरता से ले रही हैं।

पुलिस फौरन हरकत में आई और तेजी से जांच शुरू कर दी हैं। पुलिस ने अपनी शुरूआती जांच में आशंका जताई कि इलाके में अवैध तरीके से अबॉर्शन रैकेट का काम जारी है और उन पर जल्द से जल्द नकेल कसी जाएगी। आरोपियों को जल्दी ही पकड़ लिया जाएगा।

नासिक में भी हुई थी ऐसी घटना: बता दें कि महाराष्ट्र के नासिक शहर के नसरडी इलाके में नवजात शिशुओं को नदी में फेंके जाने की खबर सामने आने के बाद लोगों ने गुस्सा जाहिर किया जा रहा था। इस घटना के सामने आते ही आक्रोशित ग्रामीणों ने इस अमानवीय कृत्य के दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की।

पुणे में मिला था एक नवजात शिशु का शव: कुछ दिनों पहले पुणे के खराडी में पुराने मुंढवा पुल के पास नदी के किनारे एक नवजात बच्चे का शव मिला था। इस मामले में चंदननगर थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। स्थानीय नागरिकों द्वारा बताया गया था कि इस शिशु का शव नदी के तटबंध में पड़ा हुआ है।

लोगों ने इसकी सूचना फौरन मुंढवा पुलिस और फायर ब्रिगेड को दी। इसके बाद दमकलकर्मियों ने शव को नदी तल से बाहर निकाला। पुलिस को आशंका थी कि अनैतिक संबंध से पैदा हुए बच्चे को उसके माता-पिता ने नदी में फेंक दिया था।

 

Citizen Reporter

Report Your News

Join Us on Social Media

Download Free Mobile App

Download Android App

Follow us on Google News

Google News

Rokthok Lekhani Epaper

Post Comment

Comment List

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media

Latest News

झारखंड की राजनीति गरमाई...  कांग्रेस के नाराज आठ विधायक दिल्ली में जमे झारखंड की राजनीति गरमाई... कांग्रेस के नाराज आठ विधायक दिल्ली में जमे
जमीन घोटाले में हेमंत सोरेन को ईडी द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद चंपई सोरेन ने सीएम की कुर्सी संभाली...
1100 करोड़ की मेफेड्रोन जब्त, तीन गिरफ्तार... एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज
महाराष्ट्र में मुस्लिम आरक्षण के लिए भी विधेयक लाए सरकार - अबू आजमी
ग्लोबल वार्मिंग : मुंबई, कोलकाता, दुबई, लंदन और न्यूयॉर्क समेत दुनिया के 36 बड़े शहर जल्द ही गहरे समंदर में डूब सकते हैं
मुंबई एयरपोर्ट पर 80 वर्षीय यात्री की मौत पर डीजीसीए से मांगी रिपोर्ट...
अजीत पवार के नेतृत्व वाले एनसीपी गुट ने स्पीकर के फैसले को बॉम्बे हाई कोर्ट में दी चुनौती...
लोकसभा चुनाव की घोषणा चुनाव आयोग 9 मार्च के बाद घोषणा कर सकता तारीखों का ऐलान

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media