शिवसैनिक के सीएम पर बनने पर महाराष्ट्र खुश -एकनाश शिंदे

शिवसैनिक के सीएम पर बनने पर महाराष्ट्र खुश -एकनाश शिंदे

Rokthok Lekhani

महाराष्ट्र : शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे के मुख्यमंत्री और देवेंद्र फडणवीस के उपमुख्यमंत्री बनने के बाद कांग्रेस महासचिव और राज्यसभा सांसद जयराम रमेश ने भाजपा पर आरोप लगाया कि पार्टी ने अनैतिक रूप से सरकार का गठन किया है। कांग्रेस का आरोप है कि महाराष्ट्र में भाजपा ने शिवसेना के बागी विधायकों के साथ मिलकरल गलत तरीके से सरकार का गठन किया है। महाराष्ट्र में चल रहे सियासी हलचल की रफ्तार पर अब लगाम लगने की उम्मीद है।

दरअसल 30 जून को एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बन गए हैं। इसी के साथ महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री बने हैं। बता दें कि भाजपा के इस फैसले से हर कोई हैरान है। वहीं एकनाथ शिंदे सीएम पद की शपथ लेने के बाद जब गोवा में मौजूद अपने बागी विधायकों के बीच पहुंचे तो वहां उनका जोरदार स्वागत किया गया। इस दौरान गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत भी मौजूद रहे। बता दें कि एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों ने बीत रात होटल पहुंचते में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का गर्मजोशी से स्वागत किया।

आज संजय राउत ईडी के सामने होंगे पेश: शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत आज दोपहर 12 बजे ई़डी के सामने पेश होंगे। ऐसे में उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा है कि वे ED कार्यालय में इकट्ठा न हों और शांति बनाए रखें। एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, “मैं आज दोपहर 12 बजे ईडी के सामने पेश होऊंगा। मुझे जारी किए गए समन का मैं सम्मान करता हूं और जांच एजेंसियों के साथ सहयोग करना मेरा कर्तव्य है। मैं शिवसेना कार्यकर्ताओं से ईडी कार्यालय में इकट्ठा नहीं होने की अपील करता हूं।

चिंता मत करो !” शिवराज सिंह चौहान का तंज: महाराष्ट्र में चल रहे सियासी संग्राम के बीच मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने तंज कसते हुए गुरुवार को कहा, “महाराष्ट्र सरकार को बचाने के लिए एक व्यक्ति (कमलनाथ) को भेजना कांग्रेस के लिए अजीब है, जो अपनी सरकार को नहीं बचा सके। बेचारे उद्धव..कांग्रेस के पास केवल एक ‘नाथ’ है, बाकी कांग्रेस ‘अनाथ’ है।” गौरतलब है कि महाराष्ट्र के सियासी संग्राम के बीच शिवसेना राज्य में दूसरे से पांचवे नंबर की पार्टी हो गई है।

दरअसल राज्य के विधानसभा चुनाव के जब नतीजे आए थे तो शिवसेना भाजपा के बाद दूसरी सबसे बड़ी पार्टी थी। लेकिन ढाई साल बाद अब शिवसेना के सिर्फ 16 विधायक बचे हैं। दरअसल शिवसेना के 39 विधायकों ने अपना एकनाथ शिंदे की अगुवाई में अपना अलग गुट बना लिया है।


Tags:

Today's E Newspaper

Join Us on Social Media

Download Free Mobile App

Download Android App

Follow us on Google News

Google News

Rokthok Lekhani Epaper

Post Comment

Comment List

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media

Latest News

हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार, शहीद मेजर की विधवा को नहीं मिले पूर्व सैनिक नीति के तहत फायदे... हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार, शहीद मेजर की विधवा को नहीं मिले पूर्व सैनिक नीति के तहत फायदे...
पीठ ने कहा कि 'क्योंकि ये विशेष मामला है, इसलिए हमने राज्य की सर्वोच्च अथॉरिटी (मुख्यमंत्री) को भी इस मामले...
वोट नहीं मिला तो सरपंच पैसा मांगने न आएं - नीतेश राणे
डिप्टी सीएम अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार के पोस्टर में राज ठाकरे की तस्वीर... सियासी गलियारे में हर तरफ चर्चा
नवी मुंबई में एक महिला ने दो लोगों पर दुष्कर्म का लगाया आरोप, 1 गिरफ्तार
वसई: निर्माणाधीन दीवार गिरने से एक की मौत... एक घायल
मीरा रोड में लड़की का अपहरण कर पिता को बेरहमी से पीटा
सीएसएमटी स्टेशन पर अपर्याप्त शौचालय के कारण यात्रियों की दुर्दशा...

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media