अशोक चव्हाण के बाद पूर्व MLC ने छोड़ी कांग्रेस, संजय निरुपम पर भी लग रहे कयास

After Ashok Chavan, former MLC left Congress, speculations are being made on Sanjay Nirupam too

अशोक चव्हाण के बाद पूर्व MLC ने छोड़ी कांग्रेस, संजय निरुपम पर भी लग रहे कयास

महाराष्ट्र में कांग्रेस को सोमवार को तगड़ा झटका लगा। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक चव्हाण ने हाथ का साथ छोड़ दिया। चव्हाण के कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद अमरनाथ राजुरकर ने भी पार्टी छोड़ दी। इस तरह, एक दिन के भीतर महाराष्ट्र कांग्रेस को दोहरा झटका लगा है। मालूम हो कि राजुर विधान परिषद के पूर्व सदस्य हैं और उन्हें चव्हाण का करीबी माना जा रहा है। कांग्रेस में पार्टी नेताओं के इस्तीफे का सिलसिला यहीं पर रुकता नजर नहीं आ रहा है। अब सीनियर लीडर संजय निरुपम के भी कांग्रेस छोड़ने के कयास लग रहे हैं। दरअसल, उन्होंने अशोक चव्हाण के कांग्रेस छोड़ने के फैसले का बचाव किया है और इसके लिए पार्टी आलाकमान को जिम्मेदार ठहराया है।

संजय निरुपम ने एक्स पर पोस्ट किया, 'अशोक चव्हाण यकीनन पार्टी के लिए असेट थे। कोई उन्हें लायब्लिटी कह रहा है, कोई ED को जिम्मेदार ठहरा रहा है, यह सब जल्दबाजी में दिया हुआ रिएक्शन है। वे बुनियादी तौर पर महाराष्ट्र के एक नेता की कार्यशैली से बहुत परेशान थे। इसकी जानकारी उन्होंने समय-समय पर शीर्ष नेतृत्व को दिया था। अगर उनकी शिकायतों को गंभीरता से लिया जाता तो यह नौबत नहीं आती।' उन्होंने अशोक चव्हाण की तारीफ करते हुए कहा कि वह साधन-संपन्न है, कुशल संगठक है, जमीनी पकड़ रखते हैं और सीरीयस नेता हैं।

अशोक चव्हाण की तारीफ में क्या बोले निरुपम

संजय निरुपम भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से पूर्व सांसद और मुंबई क्षेत्रीय कांग्रेस समिति के पूर्व अध्यक्ष रहे हैं। उन्होंने अशोक चव्हाण को लेकर आगे कहा कि भारत जोड़ो यात्रा जब पिछले साल नांदेड़ में 5 दिनों के लिए थी, तब समस्त नेतृत्व ने उनकी क्षमता का साक्षात दर्शन किया था। चव्हाण का कांग्रेस छोड़ना हमारे लिए बड़ा नुकसान है। इसकी भरपाई कोई नहीं कर पाएगा। उन्हें संभालने की जिम्मेदारी सि और सिर्फ हमारी थी। मीडिया में सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि निरुपम भी पार्टी हाई कमान से नाराज चल रहे हैं। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि वह भी जल्द ही कांग्रेस का हाथ छोड़ सकते हैं।

नेताओं पर जांच एजेंसियों का दबाव, कांग्रेस का दावा

अशोक चव्हाण के साथ छोड़ने पर कांग्रेस की ओर से कहा गया कि जो लोग ऐसे कदम उठा रहे हैं, उन पर जांच एजेंसियों का दबाव है। पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि जो नेता किसी न किसी वजह से खुद को असुरक्षित महसूस करते हैं कि उनके लिए BJP की वाशिंग मशीन वैचारिक प्रतिबद्धता के मुकाबले ज्यादा आकर्षक रहेगी। उन्होंने पोस्ट किया, 'जब मित्र और सहकर्मी उस राजनीतिक दल को छोड़ देते हैं जिसने उन्हें बहुत कुछ दिया है- शायद उससे भी अधिक जिस ऐप पर पढ़ें हकदार थे, तो यह हमेशा पीड़ा का विषय होता है। लेकिन जो लाग असुरक्षित महसूस करते हैं, उनके लिए वह वॉशिंग मशीन हमेशा वैचारिक प्रतिबद्धता या व्यक्तिगत वफादारी से अधिक आकर्षक साबित होगी।'

Tags:

Citizen Reporter

Report Your News

Join Us on Social Media

Download Free Mobile App

Download Android App

Follow us on Google News

Google News

Rokthok Lekhani Epaper

Post Comment

Comment List

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media

Latest News

नागपुर में पत्नी ने खाना बनाने से किया मना...  पति ने बच्चों सहित पत्नी को बांधकर दी धमकी नागपुर में पत्नी ने खाना बनाने से किया मना... पति ने बच्चों सहित पत्नी को बांधकर दी धमकी
महाराष्ट्र के नागपुर शहर के ओम नगर में एक हाई-वोल्टेज ड्रामा सामने आया जब एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और...
लोकसभा चुनाव में मुंबई की सभी 6 सीटों पर महायुती लहराएगी विजय पताका
दो समूहों के बीच झड़प में घायल छात्र की मौत... भिवंडी में तनाव
हजारों डॉक्टरों ने किया राज्यव्यापी हड़ताल का एलान...
26 फरवरी को प्रधानमंत्री मोदी देशभर के 556 स्टेशन के पुनर्विकास परियोजना की रखेंगे आधारशिला...
कल्याण रेलवे स्टेशन के पास मिले 54 डेटोनेटर, बम स्क्वाड को मौके पर बुलाया गया आगे की जांच शुरू...
नवी मुंबई में महंगा मोबाइल और कार का दिया लालच, 66 लाख रुपए डूबे

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media