डीजल चोरी करनेवाले ठेकेदार और जेसीबी ड्राइवर को अंधेरी आरपीएफ द्वारा किया गया गिरफ्तार...

Diesel theft contractor and JCB driver arrested by Andheri RPF

डीजल चोरी करनेवाले ठेकेदार और जेसीबी ड्राइवर को अंधेरी आरपीएफ द्वारा किया गया गिरफ्तार...

पश्चिम रेलवे के दादर रेल पथ के एक अधिकारी के साथ मिलकर डीजल चोरी करनेवाले ठेकेदार और एक जेसीबी ड्राइवर को अंधेरी आरपीएफ द्वारा गिरफ्तार किया गया था। उनके पास से बरामद मोबाइल की जांच में दादर रेल पथ के अधिकारी द्वारा मुनाफे के लिए रेलवे का डीजल आधे दाम पर बेचने का खेल किए जाने का खुलासा हुआ है।

मुंबई : पश्चिम रेलवे के दादर रेल पथ के एक अधिकारी के साथ मिलकर डीजल चोरी करनेवाले ठेकेदार और एक जेसीबी ड्राइवर को अंधेरी आरपीएफ द्वारा गिरफ्तार किया गया था। उनके पास से बरामद मोबाइल की जांच में दादर रेल पथ के अधिकारी द्वारा मुनाफे के लिए रेलवे का डीजल आधे दाम पर बेचने का खेल किए जाने का खुलासा हुआ है।

इसके साथ ही आरोपी ने अपने बयान में भी इसका खुलासा किया है। रेल अधिकारी के इसमें शामिल होने से डीजल चोरी का मामला अब गंभीर हो गया है। इसको लेकर आरपीएफ ने अपनी जांच तेज कर दी है। हालांकि रेलवे की तरफ से अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

पश्चिम रेलवे आरपीएफ क्राइम ब्रांच को जानकारी मिली थी कि कुछ लोग रेलवे के डीजल की चोरी कर उसका इस्तेमाल जेसीबी में कर रहे हैं। इस जानकारी के आधार पर मंगलवार को जोगेश्वरी एटी राम मंदिर स्टेशन ब्रिज के नीचे डीजल से भरा चार ड्रम बरामद किया गया। अधिक जांच में पाया गया कि जेसीबी मालिक ने रेलवे ठेकेदार से यह डीजल खरीदा है। इसके बाद अंधेरी आरपीएफ में शिकायत दर्ज कर जेसीबी मालिक और ठेकेदार को गिरफ्तार कर ८०० लीटर डीजल बरामद किया था।

आरपीएफ ने जेसीबी मालिक और रेलवे ठेकेदार का मोबाइल जप्त करके जांच शुरू की, जिसमें जेसीबी मालिक और ठेकेदार के कई व्हाट्सऐप चैट मिले। उस चैट से खुलासा हुआ कि ठेकेदार द्वारा बाजार भाव से कम कीमत पर डीजल बेचा गया है। इसके साथ ही ठेकेदार के मोबाइल में एक रेलवे अधिकारी के साथ किए गए चैट में डीजल की लेन-देन की बात की गई है।

गिरफ्तार रेलवे ठेकदार ने आरपीएफ को दिए बयान में खुलासा किया है कि वह २०१८ से रेलवे का ठेका ले रहा है। उसके ७२ पंप का रेलवे में कॉन्ट्रैक्ट है। ये पंप चर्चगेट से बोरीवली के बीच कार्यरत हैं। उक्त पंप बारिश के पानी को निकालने हेतु रेलवे प्रशासन द्वारा कॉन्ट्रैक्ट दिया गया है। यह पंप को चलाने हेतु दादर रेल पथ के अधिकारी से दादर स्टोर से कम भाव में अपने आर्थिक लाभ हेतु लिया है।

इसका भुगतान दादर रेलवे अधिकारी को नकद में किया गया है। इस मामले में आरपीएफ की तरफ से संबंधित रेलवे अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने हेतु रेल प्रशासन को सूचित किए जाने की जानकारी सूत्रों से मिली है। इस संदर्भ में पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर को फोन करके प्रतिक्रिया जानने की कोशिश की गई लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।

Citizen Reporter

Report Your News

Join Us on Social Media

Download Free Mobile App

Download Android App

Follow us on Google News

Google News

Post Comment

Comment List

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media

Latest News

मुंबई के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से 70 करोड़ की हेरोइन बरामद...  डीआरआई ने दो लोगों को किया गिरफ्तार मुंबई के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से 70 करोड़ की हेरोइन बरामद... डीआरआई ने दो लोगों को किया गिरफ्तार
डीआरआई ने छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से 70 करोड़ रुपये की कीमत की हेरोइन को जब्त किया है। इसके...
मुंबई सहित महाराष्ट्र के कई हिस्सों में जारी रहेगी बारिश... IMD ने जारी किया मौसम अपडेट
कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे... महाराष्ट्र में एक्टिव केस एक हजार के पार, डरा रहे ताजा मामले
महाराष्ट्र/ गोंदिया शहर के कृषि महाविद्यालय परिसर में हत्या... शव को पेड़ से लटकाया
मुंबई के पूर्व जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की राजनीति में होगी एंट्री! 
कोस्टल रोड का काम लगभग 72 प्रतिशत काम हुआ पूरा...
मनपा के पास आए जल नीति के तहत छह हजार आवेदन... सात सौ परिवारों को ही मिल पाया नल कनेक्शन

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media