मानसून को लेकर मनपा जोरदार तैयारी में...खतरनाक इमारतों को खाली कराने का काम शुरू, ३३७ सूचीबद्ध

Municipal Corporation in vigorous preparation for monsoon... Evacuation of dangerous buildings started, 337 listed

मानसून को लेकर मनपा जोरदार तैयारी में...खतरनाक इमारतों को खाली कराने का काम शुरू, ३३७ सूचीबद्ध

मनपा हर साल मानसून से पहले मुंबईकरों को सुरक्षा के लिए एहतियातन विभिन्न कार्य और उपाय योजना करती है। इस वर्ष भी नालों से कीचड़ हटाने के अलावा मुंबई महानगर क्षेत्र में सड़क मरम्मत, निवासी और गैरनिवासी क्षेत्रों में जर्जर इमारतों का निरीक्षण भी किया।

मुंबई : आगामी मानसून की तैयारी को लेकर मनपा जोरदार तैयारी में है, मानसून शुरू होने से पहले ही मुस्तैद हो गई है। दरअसल हर वर्ष मानसून में खतरनाक और जर्जर इमारतों के गिरने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। ऐसे में इस वर्ष मनपा ने कुल ३३७ जर्जर इमारतों को सूचीबद्ध किया है, जो बहुत ही घातक और जर्जर अवस्था में हैं। सबसे अधिक जर्जर इमारतें पश्चिमी उपनगर में १६३ हैं और पूर्वी उपनगर में १०४ जर्जर इमारतें हैं, जबकि सबसे कम शहरी इलाके में ७० इमारतें खतरनाक हैं। मनपा ने इन इमारतों में रहनेवालों से जल्द से जल्द इसे खाली करने की अपील की है।

मनपा हर साल मानसून से पहले मुंबईकरों को सुरक्षा के लिए एहतियातन विभिन्न कार्य और उपाय योजना करती है। इस वर्ष भी नालों से कीचड़ हटाने के अलावा मुंबई महानगर क्षेत्र में सड़क मरम्मत, निवासी और गैरनिवासी क्षेत्रों में जर्जर इमारतों का निरीक्षण भी किया।

खतरनाक और जर्जर इमारतों की सूची भी जारी कर, यहां रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजने की योजना पर काम शुरू है। कुछ दिनों पहले से ही यहां रहने वालों को स्थानांतरित करने का प्रयास मनपा की ओर से किया जा रहा है। इन जर्जर इमारतों की सूची सहित पूरी जानकारी मनपा के वेबसाइट पर उपलब्ध कराई गई है। मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल, अतिरिक्त आयुक्त प्रशासन की ओर से संजीव कुमार एवं उपायुक्त (अतिक्रमण उन्मूलन) चंदा जाधव की अगुवाई में यह सर्वेक्षण किया गया है।

मुंबई शहर में ७० इमारतों को हाई रिस्क घोषित किया गया है। इन भवनों में ए वॉर्ड में ४, बी वॉर्ड में ४, सी वॉर्ड में १, डी वॉर्र्ड ४, ई वॉर्ड में १२, एफ / साउथ वॉर्ड में ५, एफ / नॉर्थ वॉर्ड में २६, जी / साउथ वॉर्ड में ४ और जी / नॉर्थ वराडे में १० हाई रिस्क है।

मुंबई में ३० साल की इमारतों को पुरानी मानकर मनपा जांच करती है। निर्धारित लक्षणों में से एक भी लक्षण पाए जाने पर इमारत को खतरनाक सूची में डाल दिया जाता है। जिन इमारतों के पिलर एवं बेस के भाग खराब हो जाते हैं, ऐसी तमाम इमारतों को जर्जर घोषित करती है। सबसे खतरनाक इमारतों के बारे में अधिक जानकारी के लिए लोग मनपा को ९१६/२२६९४७२५/२२६९४७२७ पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

Tags:

Today's E Newspaper

Join Us on Social Media

Download Free Mobile App

Download Android App

Follow us on Google News

Google News

Rokthok Lekhani Epaper

Post Comment

Comment List

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media

Latest News

हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार, शहीद मेजर की विधवा को नहीं मिले पूर्व सैनिक नीति के तहत फायदे... हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार, शहीद मेजर की विधवा को नहीं मिले पूर्व सैनिक नीति के तहत फायदे...
पीठ ने कहा कि 'क्योंकि ये विशेष मामला है, इसलिए हमने राज्य की सर्वोच्च अथॉरिटी (मुख्यमंत्री) को भी इस मामले...
वोट नहीं मिला तो सरपंच पैसा मांगने न आएं - नीतेश राणे
डिप्टी सीएम अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार के पोस्टर में राज ठाकरे की तस्वीर... सियासी गलियारे में हर तरफ चर्चा
नवी मुंबई में एक महिला ने दो लोगों पर दुष्कर्म का लगाया आरोप, 1 गिरफ्तार
वसई: निर्माणाधीन दीवार गिरने से एक की मौत... एक घायल
मीरा रोड में लड़की का अपहरण कर पिता को बेरहमी से पीटा
सीएसएमटी स्टेशन पर अपर्याप्त शौचालय के कारण यात्रियों की दुर्दशा...

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media