अमरावती शहर में केमिस्ट की हत्या के मामले में पुलिस ने कथित मुख्य आरोपी को किया गिरफ्तार

अमरावती शहर में केमिस्ट की हत्या के मामले में पुलिस ने कथित मुख्य आरोपी को किया गिरफ्तार

अमरावती : महाराष्ट्र के अमरावती शहर में एक केमिस्ट की हत्या के मामले में पुलिस ने कथित मुख्य आरोपी को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया. यह इस मामले में सातवीं गिरफ्तारी है. पुलिस ने कहा कि यह हत्या का संबंध भाजपा की निलंबित नेता नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पोस्ट से हो सकता है. मामले को राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंप दिया गया है. वहीं अमरावती कोर्ट ने मास्टरमाइंड शेख इरफान को 7 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया.

अमरावती शहर पुलिस की अपराध शाखा ने स्थानीय निवासी इरफान खान (32) को शाम के समय नागपुर से गिरफ्तार कर लिया. शहर के पुलिस आयुक्त डॉ. आरती सिंह ने कहा कि उसने कथित तौर पर अमरावती में एक मेडिकल स्टोर चलाने वाले उमेश प्रह्लादराव कोल्हे (54) की हत्या की साजिश रची थी और अन्य लोगों को इसमें शामिल किया था. अमरावती के श्याम चौक क्षेत्र के घंटाघर के पास 21 जून की रात करीब साढ़े 10 बजे उमेश की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी.

इससे पहले, राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) की एक टीम केमिस्ट की हत्या के मामले की जांच के सिलसिले में शनिवार को महाराष्ट्र के अमरावती शहर पहुंचकर जांच शुरू कर दी. इस मामले की एनआईए जांच का केंद्र का यह फैसला इस आशंका के मद्देनजर लिया गया है कि केमिस्ट की हत्या भारतीय जनता पार्टी (BJP) से निलंबित नुपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पोस्ट का परिणाम हो सकती है.

इससे पहले दिन में केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट करके जानकारी दी थी कि मामले की जांच एनआईए को सौंप दी गयी है.एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि एनआईए की एक टीम अमरावती पहुंच चुकी है. उन्होंने बताया कि राज्य पुलिस के आतंकवाद-निरोधक दस्ते (ATS) की एक टीम भी अमरावती शहर पहुंच रही है. कोल्हे की हत्या राजस्थान के उदयपुर में एक दर्जी की गला रेतकर हत्या किए जाने और इसकी ऑनलाइन वीडियो पोस्ट करने से एक सप्ताह पहले की गयी थी. एनआईए उदयपुर के दर्जी कन्हैयालाल की हत्या की भी जांच कर रही है.

सिटी कोतवाली पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, ‘उमेश की अमरावती शहर में एक दवा की दुकान थी. उसने नुपुर शर्मा के समर्थन में कुछ व्हाट्सएप समूह में एक पोस्ट कथित तौर पर साझा किया था. उमेश ने गलती से यह पोस्ट एक ऐसे व्हाट्सएप समूह में भेज दिया था, जिसमें दूसरे समुदाय के सदस्य भी थे.’ अधिकारी के मुताबिक इरफान ने उमेश की हत्या की कथित तौर पर साजिश रची और इसके लिए पांच लोगों की मदद ली.

उन्होंने बताया कि इरफान ने उन पांच लोगों को 10-10 हजार रुपये देने और एक कार में सुरक्षित रूप से फरार होने में मदद करने का वादा किया था. पुलिस ने मुदसिर अहमद (22), शाहरुख पठान (25), अब्दुल तौफीक (24) शोएब खान (22) और अतीब राशिद (22) को गिरफ्तार किया है. सभी अमरावती के निवासी और दिहाड़ी मजदूर हैं. उन्होंने अपराध में प्रयुक्त चाकू को भी जब्त कर लिया और सीसीटीवी फुटेज हासिल कर ली. भाजपा ने पांच जून को अपनी राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा को निलंबित कर दिया था और भाजपा की दिल्ली इकाई के मीडिया प्रमुख नवीन जिंदल को निष्कासित कर दिया था.

Today's E Newspaper

Join Us on Social Media

Download Free Mobile App

Download Android App

Follow us on Google News

Google News

Rokthok Lekhani Epaper

Post Comment

Comment List

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media

Latest News

हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार, शहीद मेजर की विधवा को नहीं मिले पूर्व सैनिक नीति के तहत फायदे... हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को लगाई फटकार, शहीद मेजर की विधवा को नहीं मिले पूर्व सैनिक नीति के तहत फायदे...
पीठ ने कहा कि 'क्योंकि ये विशेष मामला है, इसलिए हमने राज्य की सर्वोच्च अथॉरिटी (मुख्यमंत्री) को भी इस मामले...
वोट नहीं मिला तो सरपंच पैसा मांगने न आएं - नीतेश राणे
डिप्टी सीएम अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार के पोस्टर में राज ठाकरे की तस्वीर... सियासी गलियारे में हर तरफ चर्चा
नवी मुंबई में एक महिला ने दो लोगों पर दुष्कर्म का लगाया आरोप, 1 गिरफ्तार
वसई: निर्माणाधीन दीवार गिरने से एक की मौत... एक घायल
मीरा रोड में लड़की का अपहरण कर पिता को बेरहमी से पीटा
सीएसएमटी स्टेशन पर अपर्याप्त शौचालय के कारण यात्रियों की दुर्दशा...

Advertisement

Sabri Human Welfare Foundation

Join Us on Social Media